मोहाली 23फरवरी (मार्शल न्यूज)भारत तिब्बत सहयोग मंच के मार्गदर्शक एवं आर.एस.एस. के वरिष्ठ प्रचारक आदरणीय इंद्रेश कुमार जीने कहा हैं कि कुछ सालों बाद आने वाले नक्शों और किताबों में पाकिस्तान का जिक्र नहीं होगा। पाकिस्तान ने अपनी नियति तय कर ली हैं। आज पाकिस्तान टूटने की कगार प र खड़ा है। इंद्रेश कुमार कहा कि चीन पाकिस्तान को खाने के लिए बैठा हैं लेकिन भारत चीन को पाकिस्तान खाने नहीं देगा। चीन को हमेशा दुनिया पर कब्जा करने वाला देश माना गया हैं। ना कैलाश मानसरोवर उसका था और ना हैं। उन्होने केंद्र सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि चीन को डोकलाम और एल ए से हटने पर मजबूर किया गया। उन्होंने कहा कि खुदा रूपी राम और राम रूपी खुदा के अयोध्या में बनने वाले मंदिर में सभी देश, सभ्यता और धर्मों के लोग आ सकेंगे, लेकिन हिन्दुस्तान में एक भी मस्जिद ऐसी नही हैं जिसमें मुसलमानो के 72 फिरके जाकर नमाज अदा कर सके। ऐसे में 5 एकड़ में बनने वाली उस मस्जिद को तो सभी 72 फिरकों के लिए खोल देना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि सीएए का कानून आया तो मुसलमानों को कुछ लोगों ने भडक़ाया और कहा कि ये नागरिकता का वेरिफिकेशन हैं, जबकि ऐसा नही हैं। ये किसी की नागरिकता छिनने के लिए नहीं है, बल्कि जिन पर जुल्म हैं उन्हे नागरिकता देने का कानून हैं। पाकिस्तान में भयंकर जुल्म हैं, लेकिन किसी ईसाई, मुस्लिम, बौद्ध देशों ने उस धर्म के लोगों के लिए अपने दरवाजे नही खोले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here